शैलपुत्री जग कल्याणी माँ - गीत - डॉ॰ राम कुमार झा 'निकुंज'

माँ जगदम्बे शेरावाली, 
महाकालिका खप्परधारी, 
उमा शैलजा मंगलकारी, 
प्रथमस्वरूपा दुर्गे रानी। 

कलश स्थापना मातु भवानी, 
शैलपुत्री परिणीत शिवानी। 
दिव्या भव्या अम्बे चण्डी, 
चक्र गदा धनु शंख शारंगी। 

जयतु जयतु माता रानी जी,
शैलपुत्री जग कल्याणी जी,
मधुकैटव सम असुरघातिनी,
शेरोवाली दुर्गा रानी जी।

महिषासुर सैन्य घातिनी जी,
महिषासुरमर्दिनि अम्बे जी,
करुणामयी माँ जगतारिणी,
शिवा भवानी रुद्राणी जी।

विन्ध्याचल भगवति विलासिनी, 
भुवनेश्वरी दुर्गति नाशिनी। 
रिद्धि सिद्धि कैलाशवासिनी, 
जगजननी जय पापहारिणी। 

डॉ॰ राम कुमार झा 'निकुंज' - नई दिल्ली

साहित्य रचना को YouTube पर Subscribe करें।
देखिये हर रोज साहित्य से जुड़ी Videos